“जिद जुनून जीत” — मनोगुरू

गिन मत कदम मंजिल से पहले,
वो खुद शुमार होंगे तेरी जश्न-ए-फतह में….

-अभिषेक “मनोगुरू”

Collab with = Shiwam pathaur + Sharda Khakre + मनोगुरू (Dark Days Diary)…… on your quote app.

वो चिराग दीपक समझ , बुझता सा दिख रहा है
पर वो सिरफिरा बेफिक्र हो, तकदीर लिख रहा है…

अभिषेक “मनोगुरू”

थी हमारी भी तमन्ना आसमान छूने की,
पर काट लोगों ने ज़मीन में दफ़नाया

अतुल हिन्दुस्तानी

जो कर प्रयास बेधुंध आसमां छू पाया
कल कटु वचनों को उसने नतमष्तक पाया…..

अभिषेक “मनोगुरू”

अतुल हिंदुस्तानी (अल्फाजों की दुकान) + अभिषेक “मनोगुरू” (dark days diary)

खोजने में यूँ मुझे , फिर रहा क्यूँ दर बदर
पास हूँ अहसास बन कर, ढूँढता फिर है किधर

अभिषेक “मनोगुरू”

ए शख्स..! तुझे ढूँढने में खो गया हूँ इस कदर,
मेरा साया भी भारी दुपहरी में मेरा साथ छोड गया

काव्यना अनामिका

Kavyana (anamika) + “मनोगुरू” (dark days diary) follow on your quote.

क्या कठिन….? सब अन्जान….
सबसे कठिन… बनना इन्सान

अभिषेक “मनोगुरू”

मनोगुरू + Supriya sinha + Astha dadheech + Rohit’s writing + PP + राहुल केशरी

लाख मखमली बिस्तर लगा लो , नही आएगी
नींद सुकून का सौदा है…

अभिषेक शुक्ला

गर नींद मखमली बिस्तर पर ही आती
वो बड़ी हवेली रहते, गोलियाँ ना खाते….

अभिषेक “मनोगुरू”

Abhishek shukla + Dark days diary from yourquote

सूरज को क्या मालूम,
रात की तन्हाई का आलम…
चाँद से नज़र मिलाया कभी,
शाम ढलने के बाद…

. काव्यना अनामिका

सूरज ही जाने तपिश,
जलन क्या होती है
वो निशा तो बस संग,
शशि-चाँदनी सोती है…

अभिषेक “मनोगुरू”

Opposite collab with Kavyana (Anamika) + अभिषेक मनोगुरू (Dark Days Diary)

माना इक अरसा बीत गया,
तुम सोए नहीं……
पर हर अरसा इक ख्वाब बना ,
हम खोए वहीं……

अभिषेक “मनोगुरू”

एक सदी बीत गयी,
नींद से ताल्लुक हुए…
एक सदी का इंतेज़ार है
की ख्वाब पूरे हों…

काव्यना अनामिका

Kavyana (Anamika) + अभिषेक मनोगुरू (Dark Days Diary)

वो बँधी पैर में बेड़ी को जो तोड़ गया,
कर मेहनत जिसने मंजिल को अपनी ओर किया
माना हर पल कष्टों से उसको जोड़ गया,
वही हुआ सफल फिर जीत का अम्रत पान किया

उम्मीद एवं सकारात्मकता से भरपूर , यह कुछ स्वयं मनोगुरू की और कुछ साथी लेखकों के संग रचनाओं की एक झलक ……..

If you wants to read these writers , you should visit on yourquote app..

Follow writer’s writeups on Facebook profile – https://www.facebook.com/abhishektripathi.anshu

:-all copyrights are reserved to the respected writers. Using any writeup without permission is highly prohibited.

Courtesy :” manoguru “( https://www.facebook.com/abhishekmanoguru/ )

Yourquote writeups

Follow Writers on Yourquote- https://www.yourquote.in/abhishe99999

महफिल – ए – शायरी

वो आज भी जिंदा हैं…

महफिल – ए – शायरी ( 2 )

Manoguru

Hey...! My name is Abhishek Tripathi and pen name "Manoguru". Thanks a lot to be a member of my life by my these startups. I hope that you are easily understand me and my aim to change something in everyone. You know that -" Nobody can do everything but Everybody can do something". so activate your inner powers, talent, sensitivity , sincerity etc. Be a helping human... keep connected....... thanks again

10 thoughts on ““जिद जुनून जीत” — मनोगुरू

  1. Dil ko chune wale sabdo ka bakhuvi istemaal kiya aapne. First of all congrats and i wish one day u will become one of the top best writer, and u achieve all that things that u want…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *